• All
  • Astrology
  • Astrology and Finance
  • Fashion
  • Festivals
  • Hindu Festivals
  • Home Improvement
  • Religious Observances
  • Science & Astronomy
  • Uncategorized
  • ज्योतिष
  • धार्मिक
  • धार्मिक आयोजन
  • धार्मिक और सांस्कृतिक विचार

धार्मिक

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: मंगल, गुरु और अन्य ग्रहों के प्रभाव

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म – […]

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: मंगल, गुरु और अन्य ग्रहों के प्रभाव Read More »

Astrology, Religious Observances, ज्योतिष, धार्मिक, धार्मिक आयोजन, धार्मिक और सांस्कृतिक विचार

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: मंगल, बुध और अन्य ग्रहों के प्रभाव

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म –

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: मंगल, बुध और अन्य ग्रहों के प्रभाव Read More »

Astrology, Religious Observances, ज्योतिष, धार्मिक, धार्मिक आयोजन

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: चंद्र, गुरु और अन्य ग्रहों के प्रभाव

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म –

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: चंद्र, गुरु और अन्य ग्रहों के प्रभाव Read More »

Astrology, Religious Observances, ज्योतिष, धार्मिक, धार्मिक आयोजन

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: चंद्र, बुध और अन्य ग्रहों के प्रभाव

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म –

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: चंद्र, बुध और अन्य ग्रहों के प्रभाव Read More »

Astrology, Religious Observances, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक

सप्ताह के इन 2 दिन झाड़ू खरीदने से आपके घर से रूठकर चली जाती हैं भाग्य लक्ष्मी, जानें कब खरीदना होता है शुभ

झाड़ू का महत्व और इसका धार्मिक संदर्भ भारतीय परंपरा और संस्कृति में झाड़ू का एक विशेष स्थान है। झाड़ू न केवल घर की सफाई का साधन है, बल्कि इसे धार्मिक दृष्टिकोण से भी अत्यधिक महत्वपूर्ण माना जाता है। भारतीय समाज में झाड़ू को घर की शुद्धि और सकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक माना गया है। इसे

सप्ताह के इन 2 दिन झाड़ू खरीदने से आपके घर से रूठकर चली जाती हैं भाग्य लक्ष्मी, जानें कब खरीदना होता है शुभ Read More »

ज्योतिष, धार्मिक, धार्मिक और सांस्कृतिक विचार

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: सूर्य, बुध और अन्य ग्रहों के प्रभाव

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म –

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: सूर्य, बुध और अन्य ग्रहों के प्रभाव Read More »

Astrology, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक, धार्मिक आयोजन

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: सूर्य, मंगल और अन्य ग्रहों के प्रभाव

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म –

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: सूर्य, मंगल और अन्य ग्रहों के प्रभाव Read More »

Astrology, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक, धार्मिक आयोजन

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: सूर्य, चंद्र और अन्य ग्रहों के प्रभाव

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म –

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: सूर्य, चंद्र और अन्य ग्रहों के प्रभाव Read More »

Astrology, Religious Observances, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक

बुध और ग्रहों की युति के प्रभाव: राशिफल और उपाय

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म –

बुध और ग्रहों की युति के प्रभाव: राशिफल और उपाय Read More »

Astrology, Religious Observances, Science & Astronomy, धार्मिक

मंगल और ग्रहों की युति के प्रभाव: राशिफल और उपाय

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म –

मंगल और ग्रहों की युति के प्रभाव: राशिफल और उपाय Read More »

Astrology, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक, धार्मिक आयोजन

चंद्र और ग्रहों की युति के प्रभाव: राशिफल और उपाय

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म –

चंद्र और ग्रहों की युति के प्रभाव: राशिफल और उपाय Read More »

Astrology, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक

सूर्य और ग्रहों की युति के प्रभाव: राशिफल और उपाय

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म –

सूर्य और ग्रहों की युति के प्रभाव: राशिफल और उपाय Read More »

Astrology, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक

नीच ग्रहों की दशा में जीवन कैसे प्रभावित होता है

नीच राशिगत ग्रहों का फल नीच राशिगत ग्रहों का सामान्य – फल नीचे लिखे अनुसार समझना चाहिए – उदाहरण – कुंडली में जिस प्रकार सूर्य को नीच राशिगत दिखाया गया है, उसी प्रकार अन्य कुंडलियों में भी समझ लेना चाहिए। उदाहरण – कुंडली में जिस प्रकार चन्द्रमा को नीच राशिगत दिखाया गया है, उसी प्रकार

नीच ग्रहों की दशा में जीवन कैसे प्रभावित होता है Read More »

Astrology, ज्योतिष, धार्मिक, धार्मिक आयोजन

शत्रु राशि में ग्रहों का प्रभाव

शत्रु क्षेत्रगत ग्रहों का फल शत्रु क्षेत्रगत ग्रहों का सामान्य फल नीचे लिखे अनुसार समझना चाहिए – उदहारण – कुंडली में जिस प्रकार सूर्य को शत्रु – क्षेत्री दिखाया गया है, उसी प्रकार अन्य कुंडलियों में भी समझ लेना चाहिए। उदहारण – कुंडली में जिस प्रकार चन्द्रमा को शत्रु – क्षेत्री दिखाया गया है, उसी

शत्रु राशि में ग्रहों का प्रभाव Read More »

Astrology, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक, धार्मिक आयोजन

ग्रहों के क्षेत्रगत प्रभाव: विविध दृष्टिकोण

मित्र क्षेत्रगत ग्रहों का सामान्य फल मित्र क्षेत्रगत ग्रहों का सामान्य फल नीचे लिखे अनुसार समझना चाहिए – उदहारण – कुंडली में जिस प्रकार सूर्य को मित्र – क्षेत्री दिखाया गया है, उसी प्रकार अन्य कुंडलियों में भी समझ लेना चाहिए। उदहारण – कुंडली में जिस प्रकार चन्द्रमा को मित्र – क्षेत्री दिखाया गया है,

ग्रहों के क्षेत्रगत प्रभाव: विविध दृष्टिकोण Read More »

Astrology, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक

ग्रहों के सम्मान: ऊँचा और नीचा स्थान

ग्रहों की उच्च तथा नीच स्थिति जातक की जन्म कुंडली में जिस राशि के जितने अंश गत हो चुके हों, उसके अनुसार विभिन्न ग्रह उच्च तथा नीच स्थिति को प्राप्त करते हैं | (1) ग्रहों की उच्च स्थिति – ग्रहों की उच्च स्थिति के बारे में नीचे लिखे अनुसार समझना चाहिए : (1) सूर्य –

ग्रहों के सम्मान: ऊँचा और नीचा स्थान Read More »

Astrology, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक

Chaitra Navratri 2024: कब से शुरू हो रही है चैत्र नवरात्रि?

Chaitra Navratri 2024: कब से शुरू हो रही है चैत्र नवरात्रि? Chaitra Navratri 2024: चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि यानी चैत्र नवरात्रि से हिंदू नववर्ष शुरू होता है। चैत्र नवरात्रि को वसंत नवरात्रि या चैती नवरात्रि भी कहा जाता है। इसे हिंदूओं की पहली नवरात्रि माना गया है। हिंदू धर्म में नवरात्रि

Chaitra Navratri 2024: कब से शुरू हो रही है चैत्र नवरात्रि? Read More »

Festivals, धार्मिक

माता-पिता की मृत्यु के बाद सिर क्यों मुंडवाते हैं, जानें हिंदू धर्म में क्या है मान्यता

माता-पिता की मृत्यु एक दुःखद घटना होती है, जिससे परिवार के सभी सदस्य अधीन और अवसादित हो जाते हैं। हिंदू धर्म में, माता-पिता का स्थान बहुत महत्वपूर्ण होता है और उनका आदर करना धर्म का मौलिक सिद्धांत है। माता-पिता की मृत्यु के बाद, पुत्र या पुत्रियों के सिर का मुंडन कराया जाता है। इस प्रथा

माता-पिता की मृत्यु के बाद सिर क्यों मुंडवाते हैं, जानें हिंदू धर्म में क्या है मान्यता Read More »

धार्मिक

Maha Shivratri 2024: Here’s Why Thandai Is Served as Prasad

Maha Shivratri, also known as the Great Night of Shiva, is a significant Hindu festival celebrated with great fervor and devotion. It is dedicated to Lord Shiva, the supreme deity in the Hindu pantheon. The festival falls on the 14th day of the dark fortnight in the month of Phalguna, according to the Hindu lunar

Maha Shivratri 2024: Here’s Why Thandai Is Served as Prasad Read More »

Hindu Festivals, धार्मिक

चन्द्रमा को प्रसन्न करने के उपाय – चन्द्रमा के मंत्र और पूजा विधि

Chandrma ko Prasann karne ke upay: ज्योतिष विज्ञान में चन्द्रमा का महत्व बताया गया है। चन्द्रमा को मजबूत करने के लिए ज्योतिष शास्त्र में कुछ उपाय बताए गए हैं जैसे चन्द्रमा के मंत्रों का जाप करना, चन्द्रमा के रत्न पहनना, चन्द्रमा के व्रत रखना, चन्द्रमा के मंदिर में जाना और चन्द्रमा के मंत्रों का सुनना।

चन्द्रमा को प्रसन्न करने के उपाय – चन्द्रमा के मंत्र और पूजा विधि Read More »

धार्मिक
x
Scroll to Top
Verified by MonsterInsights