• All
  • Astrology
  • Astrology and Finance
  • Fashion
  • Festivals
  • Hindu Festivals
  • Home Improvement
  • Religious Observances
  • Science & Astronomy
  • Uncategorized
  • ज्योतिष
  • धार्मिक
  • धार्मिक आयोजन
  • धार्मिक और सांस्कृतिक विचार

ज्योतिष

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: मंगल, गुरु और अन्य ग्रहों के प्रभाव

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म – […]

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: मंगल, गुरु और अन्य ग्रहों के प्रभाव Read More »

Astrology, Religious Observances, ज्योतिष, धार्मिक, धार्मिक आयोजन, धार्मिक और सांस्कृतिक विचार

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: मंगल, बुध और अन्य ग्रहों के प्रभाव

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म –

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: मंगल, बुध और अन्य ग्रहों के प्रभाव Read More »

Astrology, Religious Observances, ज्योतिष, धार्मिक, धार्मिक आयोजन

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: चंद्र, गुरु और अन्य ग्रहों के प्रभाव

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म –

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: चंद्र, गुरु और अन्य ग्रहों के प्रभाव Read More »

Astrology, Religious Observances, ज्योतिष, धार्मिक, धार्मिक आयोजन

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: चंद्र, बुध और अन्य ग्रहों के प्रभाव

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म –

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: चंद्र, बुध और अन्य ग्रहों के प्रभाव Read More »

Astrology, Religious Observances, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: चंद्र, मंगल और अन्य ग्रहों के प्रभाव

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म –

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: चंद्र, मंगल और अन्य ग्रहों के प्रभाव Read More »

Astrology, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक आयोजन, धार्मिक और सांस्कृतिक विचार

सप्ताह के इन 2 दिन झाड़ू खरीदने से आपके घर से रूठकर चली जाती हैं भाग्य लक्ष्मी, जानें कब खरीदना होता है शुभ

झाड़ू का महत्व और इसका धार्मिक संदर्भ भारतीय परंपरा और संस्कृति में झाड़ू का एक विशेष स्थान है। झाड़ू न केवल घर की सफाई का साधन है, बल्कि इसे धार्मिक दृष्टिकोण से भी अत्यधिक महत्वपूर्ण माना जाता है। भारतीय समाज में झाड़ू को घर की शुद्धि और सकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक माना गया है। इसे

सप्ताह के इन 2 दिन झाड़ू खरीदने से आपके घर से रूठकर चली जाती हैं भाग्य लक्ष्मी, जानें कब खरीदना होता है शुभ Read More »

ज्योतिष, धार्मिक, धार्मिक और सांस्कृतिक विचार

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: सूर्य, बुध और अन्य ग्रहों के प्रभाव

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म –

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: सूर्य, बुध और अन्य ग्रहों के प्रभाव Read More »

Astrology, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक, धार्मिक आयोजन

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: सूर्य, मंगल और अन्य ग्रहों के प्रभाव

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म –

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: सूर्य, मंगल और अन्य ग्रहों के प्रभाव Read More »

Astrology, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक, धार्मिक आयोजन

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: सूर्य, चंद्र और अन्य ग्रहों के प्रभाव

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म –

तीन ग्रहों की युति का ज्योतिषीय विश्लेषण: सूर्य, चंद्र और अन्य ग्रहों के प्रभाव Read More »

Astrology, Religious Observances, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक

मंगल और ग्रहों की युति के प्रभाव: राशिफल और उपाय

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म –

मंगल और ग्रहों की युति के प्रभाव: राशिफल और उपाय Read More »

Astrology, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक, धार्मिक आयोजन

चंद्र और ग्रहों की युति के प्रभाव: राशिफल और उपाय

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म –

चंद्र और ग्रहों की युति के प्रभाव: राशिफल और उपाय Read More »

Astrology, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक

सूर्य और ग्रहों की युति के प्रभाव: राशिफल और उपाय

ग्रहों की युति का फल किस जन्म – लग्न के किस भाव में, किस राशि पर कौन – सा ग्रह स्थित हो, तो उसका क्या फलादेश होता है – इसका विस्तृत किया जा चूका है। अब हम विविध ज्योतिष ग्रथों के आधार पर ग्रहों की युति के फलादेश का वर्णन करते हैं। अर्थात जन्म –

सूर्य और ग्रहों की युति के प्रभाव: राशिफल और उपाय Read More »

Astrology, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक

नीच ग्रहों की दशा में जीवन कैसे प्रभावित होता है

नीच राशिगत ग्रहों का फल नीच राशिगत ग्रहों का सामान्य – फल नीचे लिखे अनुसार समझना चाहिए – उदाहरण – कुंडली में जिस प्रकार सूर्य को नीच राशिगत दिखाया गया है, उसी प्रकार अन्य कुंडलियों में भी समझ लेना चाहिए। उदाहरण – कुंडली में जिस प्रकार चन्द्रमा को नीच राशिगत दिखाया गया है, उसी प्रकार

नीच ग्रहों की दशा में जीवन कैसे प्रभावित होता है Read More »

Astrology, ज्योतिष, धार्मिक, धार्मिक आयोजन

The Importance of the Eighth House Lord in Different Houses in Vedic Astrology

The Importance of the Eighth House Lord in Different Houses in Vedic Astrology When it comes to Vedic astrology, each house in a horoscope represents different aspects of a person’s life. The position and influence of the eighth house lord in these houses can have a significant impact on various aspects of life, including wealth,

The Importance of the Eighth House Lord in Different Houses in Vedic Astrology Read More »

Astrology, ज्योतिष

शत्रु राशि में ग्रहों का प्रभाव

शत्रु क्षेत्रगत ग्रहों का फल शत्रु क्षेत्रगत ग्रहों का सामान्य फल नीचे लिखे अनुसार समझना चाहिए – उदहारण – कुंडली में जिस प्रकार सूर्य को शत्रु – क्षेत्री दिखाया गया है, उसी प्रकार अन्य कुंडलियों में भी समझ लेना चाहिए। उदहारण – कुंडली में जिस प्रकार चन्द्रमा को शत्रु – क्षेत्री दिखाया गया है, उसी

शत्रु राशि में ग्रहों का प्रभाव Read More »

Astrology, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक, धार्मिक आयोजन

ग्रहों के क्षेत्रगत प्रभाव: विविध दृष्टिकोण

मित्र क्षेत्रगत ग्रहों का सामान्य फल मित्र क्षेत्रगत ग्रहों का सामान्य फल नीचे लिखे अनुसार समझना चाहिए – उदहारण – कुंडली में जिस प्रकार सूर्य को मित्र – क्षेत्री दिखाया गया है, उसी प्रकार अन्य कुंडलियों में भी समझ लेना चाहिए। उदहारण – कुंडली में जिस प्रकार चन्द्रमा को मित्र – क्षेत्री दिखाया गया है,

ग्रहों के क्षेत्रगत प्रभाव: विविध दृष्टिकोण Read More »

Astrology, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक

Exploring the Influence of Rahu in Vedic Astrology

Introduction to Rahu in Vedic Astrology In Vedic astrology, Rahu is one of the nine planets or celestial bodies that are considered to have a significant influence on our lives. Rahu is known as a shadow planet, as it does not have a physical existence but holds immense astrological importance. It is often associated with

Exploring the Influence of Rahu in Vedic Astrology Read More »

Astrology, ज्योतिष

स्वक्षेत्रस्थ राशि ग्रहों का असर: सम्पूर्ण विश्लेषण

स्वक्षेत्रस्थ ग्रहों का फल अपनी राशि (क्षेत्र) में स्थित ग्रहों का सामान्य फल नीचे लिखे अनुसार समझना चाहिए – उदाहरण- कुंडली में जिस प्रकार सूर्य स्वक्षेत्री दिखाया गया है, उसी प्रकार अन्य कुंडलियों में भी समझ लेना चाहिए। उदाहरण- कुंडली में जिस प्रकार चन्द्रमा स्वक्षेत्री दिखाया गया है, उसी प्रकार अन्य कुंडलियों में भी समझ

स्वक्षेत्रस्थ राशि ग्रहों का असर: सम्पूर्ण विश्लेषण Read More »

Astrology, Religious Observances, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक आयोजन

ग्रहों का मूल त्रिकोण राशि में प्रभाव: उच्चतम परिणाम

मूल त्रिकोण राशिगत ग्रहों का फल मूल त्रिकोण राशिगत ग्रहों का सामान्य फल नीचे लिखे अनुसार होता है – उदहारण – कुंडली में सूर्य को जिस प्रकार मूल त्रिकोण राशि में स्थित दिखाया गया है, उसी प्रकार अन्य कुंडलियों में भी समझ लेना चाहिए | उदहारण – कुंडली में चन्द्रमा को जिस प्रकार मूल त्रिकोण

ग्रहों का मूल त्रिकोण राशि में प्रभाव: उच्चतम परिणाम Read More »

Astrology, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक आयोजन

ग्रहों का उच्च राशियों में स्थानन: विशेष अर्थ और महत्व

उच्च राशिगत ग्रहों का फल उच्च राशिगत ग्रहों का सामान्य फल नीचे लिखे अनुसार होता है – उदाहरण – कुंडली में जिस प्रकार सूर्य को मेष राशि में स्थित दिखाया गया है, उसी प्रकार अन्य कुंडलियों में भी समझ लेना चाहिए उदहारण – कुंडली में जिस प्रकार सूर्य को वृष राशि में स्थित दिखाया गया

ग्रहों का उच्च राशियों में स्थानन: विशेष अर्थ और महत्व Read More »

Astrology, Science & Astronomy, ज्योतिष, धार्मिक आयोजन
x
Scroll to Top
Verified by MonsterInsights